टॉप न्यूज़धर्मयूपी

कल्कि धाम मंदिर का पीएम मोदी ने किया शिलान्यास

कार्यक्रम में देशभर से 11000 से अधिक साधु संत हुए शामिल

भारत वीकली@यूपी । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यूपी के संभल दौरे पर हैं। उन्होंने यहां पर कल्कि धाम मंदिर का शिलान्यास किया है। वैदिक मंत्रों के साथ पीएम ने कल्कि धाम मंदिर का भूमि पूजन किया। इस दौरान यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और आचार्य प्रमोद कृष्णम भी बैठे हुए नजर आए। इस मंदिर को श्री कल्कि धाम निर्माण ट्रस्ट की तरफ से बनवाया जा रहा है। इसके अध्यक्ष आचार्य प्रमोद कृष्णम हैं। इस कार्यक्रम में शामिल होने देशभर से 11000 से अधिक साधु-संत पहुंचे हैं। साथ ही, कई धार्मिक नेता और गणमान्य व्यक्ति भी मंदिर के शिलान्यास कार्यक्रम में मौजूद हैं।

संभल में कल्कि धाम के शिलान्यास समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, “आज उत्तर प्रदेश की धरती से भक्ति और अध्यात्म की एक और धारा प्रवाहित होने को लालायित है। आज एक और पवित्र धाम की नींव रखी जा रही है। मुझे भव्य कल्कि धाम के शिलान्यास को सौभाग्य मिला है। मुझे विश्वास है कि कल्कि धाम भारतीय आस्था के एक और विराट केंद्र के रूप में उभरकर सामने आएगा।”

PM Narendra Modi

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, “आज एक ओर हमारे तीर्थों का विकास हो रहा है तो दूसरी ओर शहरों में हाई टेक इंफ्रास्ट्रक्चर भी तैयार हो रहा है। आज अगर मंदिर बन रहे हैं तो देश भर में नए मेडिकल कॉलेज भी बन रहे हैं… यह परिवर्तन इस बात का प्रमाण है कि समय का चक्र घूम चुका है, एक नया दौर आज हमारे दरवाजे पर दस्तक दे रहा है… इसलिए मैंने लाल किले से कहा था ‘यही समय है, सही समय है।'”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, “…मैं प्रमोद कृष्णम को एक राजनैतिक व्यक्ति के रूप में दूर से जानता था लेकिन जब कुछ दिन पहले उनसे मुलाकात हुई तो पता चला कि वे ऐसे धार्मिक-अध्यात्मिक कार्यों में कितनी मेहनत से लगे रहते हैं। कल्कि मंदिर के लिए इन्हें पहले की सरकारों के समय लंबी लड़ाई लड़नी पड़ी, कोर्ट के चक्कर भी लगाने पड़े। आज हमारी सरकार में वे निश्चिंत होकर इस काम को शुरु कर पाए हैं…”

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, “आज पहली बार भारत उस मकाम पर है जहां हम अनुसरण नहीं कर रहे, उदाहरण पेश कर रहे हैं। आज पहली बार भारत को टेक्नोलॉजी और डिजिटल टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में संभावनाओं के केंद्र के रूप में देखा जा रहा है…”

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, “उन्होंने (आचार्य प्रमोद कृष्णम) कहा कि हर किसी के पास देने के लिए कुछ न कुछ होता है लेकिन मेरे पास कुछ नहीं है, मैं सिर्फ अपनी भावना व्यक्त कर सकता हूं। अच्छा हुआ कुछ दिया नहीं, ज़माना ऐसा बदल चुका है कि आज के युग में अगर सुदामा श्री कृष्ण को एक पोटली चावल देते और वीडियो सामने आता तो सुप्रीम कोर्ट में PIL दाखिल हो जाती और फैसला आता कि भगवान कृष्ण को भ्रष्टाचार में कुछ दिया गया था और भगवान कृष्ण भ्रष्टाचार कर रहे थे…”

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button